Gudiya, Sector-55, Faridabad

 

जब रेकी हो साथ तो कोरोना जैसे वायरस की क्या औकात

मेरे पति को मई 2020 को कोरोना डिटेक्ट हो गया था जिससे हमारे पुरे घर में अशांति फैल गयी थी और घर में सब लोग बहुत डर गए थे। मैंने रेकी सीखी हुई थी तो मुझे उस पर पूरा विश्वास था कि जहाँ रेकी है वहां किस बात का डर। मैंने तुरंत उसुई रेकी फाउंडेशन में फ़ोन करके इमरजेंसी डिस्टेंस हीलिंग के लिए संपर्क किया और अपने पति की रेकी शुरू करवाई और साथ में खुद भी उनको रेकी देने लगी। सिर्फ 2 दिनों के अंदर उनके स्वास्थ में सुधार होने लगा। जब हमने 14 दिन के बाद फिर से कोरोना टेस्ट करवाया तो उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आयी। मुझे रेकी पर अटूट विश्वास है और अब मेरे घरवालों को भी हो गया है। मुझे गर्व है कि मैं यू.आर. ऍफ़. के साथ जुड़ी हूँ।

Share and Enjoy !

0Shares
0 0